Followers

Friday, July 5, 2013

Facebook Friends



मित्रता का दम भरता हूँ मैं 
तभी तो फेसबुक की दुनिया में
चार हजार सात सौ छयासी मित्र 
हो चुके हैं, फ्रेंड लिस्ट में 
बेशक नहीं करता सबों से बात 
फिर भी उनके लाईक्स के क्लिक्स में 
सुदामा की तरह कृष्णा सा प्यार
देखता रहता हूँ मैं 
हाँ! सच है, बचपन जवानी में
जिन दोस्तों के दिल पर राज करता था मैं 
नहीं रहे वे शायद खास, तभी तो 
नहीं दिखते आस-पास, ही सपने में 
तभी तो मैं ढूंढता हूँ, इन्ही 
चार हजार सात सौ छयासी मित्रों के 
स्माईलिस, जिससे अकेलापन दूर करता हूँ मैं 
तभी तो फेसबुक भी कहता है 
बहुत सोशल हो गया हूँ मैं....

हूँ .......!!  


32 comments:

Dimple Kapoor said...

so true ..mere bhi jo bachpan ke frnds the vo to pta nhi kahan hain sab..magar fb ne bhut nice frnds diye muje bhi jinhone ek baar fir se smile karna sikha diya :)

kshama said...

Bahut khoob!

expression said...

:-)
हमने तो सहेज रखे हैं बचपन के सभी मित्र अब तक....मगर फिर भी आभासी मित्रों का स्नेह भी सर माथे :-)

अनु

Anita (अनिता) said...

दोस्त सच्चे हों... भले कम हों...!
आपको इनमें सच्चे दोस्त मिलें... यही दुआ है हमारी...

~सादर!!!

Aziz Jaunpuri said...

बहुत खूब

राजेंद्र कुमार said...

आपको इनमें कुछ सच्चे दोस्त मिलें,सुन्दर प्रस्तुती।

ताऊ रामपुरिया said...

सच्चे दोस्त किस रूप में मिल जाये यह कहा नही जा सकता, शुभकामनाएं.

रामराम.

Kailash Sharma said...

बधाई!

संजय भास्‍कर said...

सच्चे दोस्त किस रूप में मिल जाये यह कहा नही जा सकता,
@ एकदम सही कहा ताऊ जी से सहमत हूँ

संजय भास्‍कर said...
This comment has been removed by the author.
संजय भास्‍कर said...

हमारी शुभकामनाये है आपको सच्चे दोस्त मिले ...!!

@ दोस्त
संजय भास्कर

Anju (Anu) Chaudhary said...

एक दम सच ....दोस्ती को लेकर तुम पर ईश्वर की कृपा बनी रहें

vibha rani Shrivastava said...

सच में .....

durga prasad Mathur said...

बीस तरह के चेहरे लिए दोस्त तो आपने लिंक किये ही हैं ,
अनेकों और भी प्रकार होते होंगे !
लेकिन जब तक हम किसी को परख ना लें ,
सच्चा दोस्त कह पाना शायद मुमकिन नही है ,
आपकी रचनाओं ने तो आपको हम सभी का चहेता बना दिया हैं इसमें कोई शक नही !

प्रवीण पाण्डेय said...

जीवन बन विस्तार फैलता..

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार (07-07-2013) को <a href="http://charchamanch.blogspot.in/“ मँहगाई की बीन पे , नाच रहे हैं साँप” (चर्चा मंच-अंकः1299) <a href=" पर भी होगी!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Shalini Kaushik said...

.उम्दा प्रस्तुति आभार क्या ये जनता भोली कही जाएगी ? आप भी जानें संपत्ति का अधिकार -5.नारी ब्लोगर्स के लिए एक नयी शुरुआत आप भी जुड़ें WOMAN ABOUT MAN लड़कों को क्या पता -घर कैसे बनता है ...

वाणी गीत said...

ये दोस्ती बनी रहे !

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

मैं भी कितना भुलक्कड़ हो गया हूँ। नहीं जानता, काम का बोझ है या उम्र का दबाव!
--
पूर्व के कमेंट में सुधार!
आपकी इस पोस्ट का लिंक आज रविवार (7-7-2013) को चर्चा मंच पर है।
सूचनार्थ...!
--

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

:):) यूं ही दोस्ती बरकरार रहे

Rewa tibrewal said...

hahahaha......so true....bhagwan kare apke sabhi dost sada apka sath dey

Pallavi saxena said...

yun hi dosti barkarar rahe... best wishes (y):):D

Manav Mehta 'मन' said...

best wishes

poonam matia said...

मित्रों की संख्या में इज़ाफा होता रहे .....शुभकामनाये
वैसे बात सटीक कही पुराने मित्र जाने क्यों फेसबुक मित्रों से भिन्न होते हैं ....कम नज़र आते हैं आसपास

दिगम्बर नासवा said...

मित्र तो दोनों ही जरूरी हैं .. आभासी भी और वास्तविक भी ...

sandhya jain said...

बहुत ही खुबसूरत अहसासों से भरी रचना....ये दोस्ती यूँ ही बनी रहे सदा..... :-)

shuk-riya said...

sachche aur achche dost dilon mein baste hain...bole yaa naa bole...milein yaa naa milein

Aparna Bose said...

maine 'time pass' karne ke liye facebook mein account khola tha magar is abhaasi duniya ne kab kaise meri duniya badal dali pata hi nahi chala... real aur virtual mitron se bohat pyar aur samman mila hai mujhe...aaj jo bhi likhti hoon in doston dwara diye gaye protsahan ka hi nateeja hai...

Bhavna....The Feelings of Ur Heart said...

aapke mitron ki suchi issi tarah badhati rahe ....jo aap ko khush rakh sakein... dost bhale hi kam ho par sachhe hon ....god bless you with such friends :)

Ranjana Verma said...

बहुत खुबसूरत अहसास... सच्चे दिलवालों के ही दोस्त भी होते हैं शुभकामना,. .

Ranjana Verma said...

बहुत खुबसूरत अहसास... सच्चे दिलवालों के ही दोस्त भी होते हैं शुभकामना,. .

Mahesh Barmate said...

bahut khoob