जिंदगी की राहें

जिंदगी की राहें

Followers

Tuesday, May 14, 2013

फेसबूक का यमराज



हल्की सी आँख लगी
धमक से यमराज की गदा चली
सपने में आँख मिचमिचाई
मेरी आवाज भर्राई
क्या हुआ देवधिदेव !
काहे नींद तोड़ रहे हो
अपराध तो बताओ
बिना बताए क्यों आए
सोने से पहले कुछ हुआ नहीं
थे अच्छे नींद में हम सोये
अब आधी रात क्यों आए
दयानिधान! अब बता भी दो
क्या सच में लेने आए हो
या बस नींद खड़काने ही आए हो
ले चलने से पहले फेयरवेल तो करवाओ
सबसे गले तो मिलवाओ ...

जल्दी चल बावरे!
तेरी गलती की सजा तो मिल के रहेगी
आज ही चित्रगुप्त ने बताया है
तुमने मेरा फ्रेंड रिकुएस्ट ठुकराया है
ऊपर से ब्लाक भी करवाया है
तेरी इत्ती हिम्मत,
अब तेरी फूटेगी किस्मत
अब तू बच नहीं पाएगा
चल मेरे साथ,
नरक का इंटरनेट तू ही चलाएगा
अब हर दिन --- डालेगा --- मेरा स्टेटस
मेरा फेक प्रोफ़ाइल कहलाएगा
फेसबूक पर मुकेश यमराज कहलाएगा ...
हा हा हा हा ! सोच मूरख
क्या से क्या हो जाएगा
क्या से क्या हो जाएगा ..........







37 comments:

Asha Lata Saxena said...

बहुत मजा आया पढ़ कर |कल्पना बहुत शानदार है |

रंजू भाटिया said...

waah जी वाह ..यह भी होना था क्या ..फेसबुक सपने में ..और क्या क्या सितम ..बहुत बढ़िया कल्पना ..:)

Aparna Bhagat said...

ha ha ha ha.. itni mazedaar kalpana Mukeshji.. wah!! main to aapko moti ghumavdaar muchhon ke saath mahishaarudh dekh rahi hoon.. hahahaha.. kya sahi likha hai.. aapki kalpna aur chust chutile kavya ko dandwat..!!!

shikha varshney said...

फेसबुक जो न सुचवा दे थोड़ा :)
बेचारे यमराज हा हा हा ..
मजेदार रचना.

ashish said...

Waah Re mukesh Yamraj . badhia.

कालीपद "प्रसाद" said...

मजेदार सपने यमराज जी ,सपना चालु रहे

latest post हे ! भारत के मातायों
latest postअनुभूति : क्षणिकाएं

अज़ीज़ जौनपुरी said...

kalpna ki khoobshurat udan

Unknown said...

फ़ेसबुक पर मुकेश और यमराज की बहस देखकर मज़ा आ गया ... लोक परलोक की बातों की बेहतरीन प्रस्तुति

Soniya Gaur said...

facebook jo naa karwaye :D bahut acchi kalpana ke saath

संगीता पुरी said...

बढिया ...

Er. सत्यम शिवम said...

waah...anokhi kalpana...sunder :)

shalini rastogi said...

मजेदार लगी आपकी कल्पना!

Anju (Anu) Chaudhary said...

अरे बाप रे फेसबुक पर यमराज ......

पहले से राक्षस जाति कम थी क्या जो अब ये यमराज भी आ धमके है ......

BS Pabla said...

सोच मूरख
क्या से क्या हो जाएगा :-)

विभा रानी श्रीवास्तव 'दंतमुक्ता' said...

सपना में भी facebook
बहुत खूब
God Bless U

alokmittal17 said...

बहुत सही कल्पना है आपकी,, यमराज को आप याद आ गये है जरा बचना................हार्दिक बधाई आपको एक बहुत अच्छी कल्पना के लिए.....:)

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

:):) फेसबुक से उपजी कल्पना ....ज़बरदस्त

Unknown said...

.बहुत बढ़िया कल्पना

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा कल बुधवार (15-05-2013) के "आपके् लिंक आपके शब्द..." (चर्चा मंच-1245) पर भी होगी!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा कल बुधवार (15-05-2013) के "आपके् लिंक आपके शब्द..." (चर्चा मंच-1245) पर भी होगी!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

शिवनाथ कुमार said...

सुन्दर कल्पना की लाजवाब उड़ान :)

Pallavi saxena said...

हा हा हा फ़ेसबूक न हुई मुई जी का जंजाल हो गया :)

शिवम् मिश्रा said...

:)

वाणी गीत said...

कैसी कैसी कल्पनाएँ :)

HARSHVARDHAN said...

कल की ब्लॉग बुलेटिन ब्लॉग बुलेटिन पर मेरी पहली बुलेटिन में आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है। सादर आभार।।

मेरा मन पंछी सा said...

बहुत बढ़ियाँ...
;-)

Kailash Sharma said...

मज़ा आ गया...बहुत बढ़िया..

प्रवीण पाण्डेय said...

हा हा हा, अन्तिम साक्षात्कार तो उन्हीं के साथ है।

Unknown said...

sahndar udan

Sadhana Vaid said...

शानदार कल्पना ! आनंद आ गया !

Unknown said...

:D :D..yamraaj ji ko bhi fb pe le aye aap :)

Sunder Pawaria said...

अति उत्तम महाशय जी

Kavita Rawat said...

बहुत बढ़िया...

सदा said...

यह तो बहुत ही जबरदस्‍त ... बधाई इस उत्‍कृष्‍ट प्रस्‍तुति के लिये

दिल की आवाज़ said...

बहुत बढ़िया आदरणीय ... आभार !

अरुणा said...

.फेसबुक पर यमराज !!!!
बहुत बढ़िया कल्पना

Unknown said...

यमराज के शानदार सपने