जिंदगी की राहें

जिंदगी की राहें

Followers

Wednesday, August 19, 2020

स्वरों को मिला सुर


उम्मीदों की बात कहूँ तो

कभी लगा था, वो
'ह्रस्व उ' की तरह घूम फिर कर लौटेगी
पर 'दीर्घ उ' की सरंचना सरीखी
एक बार जो मोड़ से घूमी
दूर तक चली गयी

'ए-कार' सा रह गया अकेला
पर 'ऐ-कार' बनने की उम्मीद में
ताकता रहा हर समय एक आंख से 'चन्द्रबिन्दु' जैसा
किंतु परन्तु के सिक्के को उछाले
दरवज्जे से तिरछी हो, झांकी ऐसे, जैसे हो
'अ:' की तरह, दुपट्टा से खुद को छिपाए

बस, बेशक दरवाजा था बन्द 'ह्रस्व इ' सा
पर आ कार सा खुला, 'अ' आया और
'दीर्घ इ' की तरह अंदर से बहते प्रेम संग बन्द हो गया

जिंदगी फंसी रही 'ऋ' जैसे दुविधाओं में
पलटती तो कभी खोलती रही
पर अंततः 'ओ-कार' के झंडे में
आना ही पड़ा 'औ-कार' की तरह उसको भी।

इस तरह, स्वरों को मिल ही गया सुर।

~मुकेश~ #poetryonpaper

13 comments:

Onkar said...

बहुत सुन्दर

yashoda Agrawal said...

आपकी लिखी रचना "सांध्य दैनिक मुखरित मौन में" आज गुरुवार 20 अगस्त 2020 को साझा की गई है.... "सांध्य दैनिक मुखरित मौन में" पर आप भी आइएगा....धन्यवाद!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

बहुत सुन्दर और सार्थक।

Jyoti Dehliwal said...

बहुत सुंदर।

प्रतिभा सक्सेना said...

वाह!

Girish Billore Mukul said...

क्या बात है बहुत बढ़िया लिखा है हार्दिक बधाई और धन्यवाद

escortchandigarhagency said...

Thanks for your life sever blogg.thanks for your important time
Chandigarh Escort VIP Call Girls

call girls in chandigarh

zirakpur call girl zirakpur escort

Chandigarh Escort Call Girl Chandigarh

Zirakpur Call Girls Zirakpur Escort

mohali escort call girl mohali

Escort Panchkula Panchkula call Girls

ludhiana call girls hot models

Solan Escort Solan Call Girl

ambala escort ambala call girl

call girls in jammu jammu Escort service

goa escort service call girl goa

pune call girl pune escort

shimla call girl Shimla Escort

vip escort manali call girl Manali

kolkata call girl kolkata Escort

kasauli escort Call Girl Kasauli

अनीता सैनी said...

जी नमस्ते ,
आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल बुधवार (३०-0६-२०२१) को
'जी करता है किसी से मिल करके देखें'(चर्चा अंक- ४१११)
पर भी होगी।
आप भी सादर आमंत्रित है।
सादर

मन की वीणा said...

वाह! शब्दों की संरचना में छुपा दर्शन लिख दिया आपने । अभिनव सृजन ।
श्रेष्ठ सुंदर।

kavita verma said...

बहुत सुंदर

Bharti Das said...

सुंदर रचना

Girish Billore Mukul said...

भैया इसमें कुछ वल्गर कमेंट भी दिखाई दे रहे हैं कृपया प्रोटेक्शन लगा दे

डॉ. जेन्नी शबनम said...

वाह! बहुत सुन्दर।