Followers

Monday, December 30, 2013

ज्ञान/विज्ञान/स्वाभिमान

DIFF 2013 से खींची हुई पेंटिंग की तस्वीर 


विज्ञान कहता है
ध्वनि के गति के
तुलना में
है प्रकाश की गति
बहुत तेज !!

ज्ञान कहता है
कुतर्क व चिल्लाने से
बेहतर है
तर्क व ज्ञान से
रोशनी फैलाने की कोशिश !!

स्वाभिमान कहता है
डरने/झुकने के बदले
करो, डट कर मुक़ाबला
संस्कार का, स्मिता का
दिया जलाओ !

ज्ञान/विज्ञान/स्वाभिमान
अगर है उनसे जुड़ाव
तो उठो ! बैठो !! जागो !!!
जिंदगी नहीं, ज़िंदगानी बनो
ज्योतिर्मय बनो !

बस यही है चुटकी भर शुभकामनायें !! नए वर्ष की शुभकामनायें !!! 

DIFF 2013 से खींची हुई पेंटिंग की तस्वीर 


13 comments:

रविकर said...

आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति बुधवारीय चर्चा मंच पर ।।

निवेदिता श्रीवास्तव said...

नए वर्ष की शुभकामनायें :)

rekha said...

A very happy new year to you :-)

Prasanna Badan Chaturvedi said...

बहुत बढ़िया प्रस्तुति...आप को और सभी ब्लॉगर-मित्रों को मेरी ओर से नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं...

नयी पोस्ट@एक प्यार भरा नग़मा:-तुमसे कोई गिला नहीं है

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
--
गये साल को है प्रणाम!
है नये साल का अभिनन्दन।।
लाया हूँ स्वागत करने को
थाली में कुछ अक्षत-चन्दन।।
है नये साल का अभिनन्दन।।...
--
नवल वर्ष 2014 की हार्दिक शुभकामनाएँ।

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

सुप्रभात।
--
सुन्दर प्रस्तुति।
--
गये साल को है प्रणाम!
है नये साल का अभिनन्दन।।
ईस्वीय नववर्ष 2014 की हार्दिक शुभकामनाएँ।
आपका हर दिन मंगलमय हो।

वाणी गीत said...

सार्थक सन्देश !
नव वर्ष की बहुत शुभकामनायें !

vandana gupta said...

रोंप खुशियों की कोंपलें
सदभावना की भरें उजास
शुभकामनाओं से कर आगाज़
नववर्ष 2014 में भरें मिठास

नववर्ष 2014 आपके और आपके परिवार के लिये मंगलमय हो ,सुखकारी हो , आल्हादकारी हो

राजीव कुमार झा said...

बहुत सुन्दर. नव वर्ष की शुभकामनाएँ !!
नई पोस्ट : नींद क्यों आती नहीं रात भर

yashoda agrawal said...

आपकी लिखी रचना शनिवार 04/01/2014 को लिंक की जाएगी...............
http://nayi-purani-halchal.blogspot.in
कृपया पधारें ....धन्यवाद!

डॉ. जेन्नी शबनम said...

इसे कहते हैं ज़िंदगी से तारतम्य जोड़ना और सहजता से खुद को समझना. नव वर्ष की ढेरों शुभकामनाएँ.

Anju (Anu) Chaudhary said...

बहुत खूबसूरती प्रस्तुति ....

abha khare said...

सार्थक सन्देश देती सुन्दर प्रस्तुति